चौधरी चरण सिंह अभिलेखागार

चरण सिंह ने आगरा कॉलेज से इतिहास में मास्टर ऑफ आर्टस (स्नातकोत्तर) डिग्री प्राप्त की, गायत्री देवी से विवाह

१९२५

आगरा कॉलेज, उत्तर प्रदेश, से इतिहास में स्नातकोत्तर उपाधि मास्टर्स डिग्री) प्राप्त की। ब्रिटेन, फ्रांस और भारत के इतिहस तथा का अध्ययन किया। पढ़ाई के दौरान उन्होंने कबीर का अध्ययन किया और इस संत कवि के अनेक दोहों को याद किया और सद्प्रभाव डालने हेतु ग्रामीणों लगातार होने वाली बात-चीत में उनका उपयोग किया। एक भंगी जाती के व्यक्ति के हाथ का बना खाना खाया, फलस्वरूप हॉस्टल में सहपाठियों द्वारा वहिष्कार झेलना पड़ा, किन्तु वह अपने निर्णय पर अडिग रहे। २५ जून को रोहतक के गढ़ी कुण्डल गांव में गायत्री देवी से विवाह हुआ।